हम अपने सभी पाठकों को तथ्य व आकड़ों के आधार पर पूर्ण सत्य के साथ खबरें देना पसंद करते हैं। सत्यकेतन समाचार

सत्यकेतन समाचार के व्हाट्सअप ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए एक बार फिर कोविड-19 का होगा मुकाबला, जाने कैसे?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए एक बार फिर कोविड-19 का होगा मुकाबला, जाने कैसे?
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए एक बार फिर कोविड-19 का होगा मुकाबला, जाने कैसे?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, सत्यकेतन समाचार : देश में फैली कोरोना महामारी के दौरान लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं या नहीं इसके लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सर्विलांस का इस्तेमाल शुरू हो गया है। अभी आधिकारिक तौर पर तेलंगाना में तकनीक के आधार पर पता लगाया जा रहा है किन जगहों पर लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं और जरूरी दूरी बनाने को प्राथमिकता नहीं दे रहे हैं। आने वाले दिनों में देश के तमाम बड़े शहरों के साथ साथ मेट्रो ट्रेन में भी इसका इस्तेमाल शुरू हो जाएगा।

आर्टिफिशियल इंटेलिंजेस तकनीक कोविड एनालिटिक्स तैयार करने वाली कंपनी वीहांत टेक्नोलॉजीज के सह संस्थापक और सीईओ कपिल बरडेजा ने हिंदुस्तान से बातचीत में बताया कि ये नई तकनीक, सॉफ्टवेयर आधारित है। इसे मौजूदा सीसीटीवी सेटअप में इंस्टॉल करने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग पर नजर रखनी आसान हो जाएगी। उनके मुताबिक यह तस्वीरों पर आधारित तकनीकी सॉल्यूशन है, काफी पुराने सीसीटीवी सेटअप में हार्डवेयर बदलाव की जरूरत भी पड़ सकती है।

भारत को मिली कामयाबी, अब X-Ray से होगी कोरोना मरीज की पहचान

उन्होंने बताया कि तकनीक के जरिए सीसीटीवी से ही उस दायरे में खड़े लोगों के चेहरे पर मास्क के लगने और नहीं लगे होने की पहचान की जाएगी। साथ ही ये भी देखा जा सकेगा सरकार की गाइडलाइंस के हिसाब से किसी जगह पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है या फिर लोगो पहले की ही तरह नजदीक ही खड़े हैं।कंपनी के मुताबिक अभी इस तकनीक का इस्तेमाल तेलंगाना पुलिस कर रही है।

तकनीक के बारे में उत्तर प्रदेश पुलिस, गुरुग्राम, रायपुर समेत तमाम बड़े शहरों में इस पर प्रजेंटेशन दी गई है। साथ ही देश के अलग अलग मेट्रो में भी इसे लेकर प्रजेंटेशन दी गयी है। इन जगहों पर आने वाले दिनों में तकनीकी सर्विलांस शुरू होने की उम्मीद है।

 

भारत को मिली कामयाबी, अब X-Ray से होगी कोरोना मरीज की पहचान

About rohan singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »