हम अपने सभी पाठकों को तथ्य व आकड़ों के आधार पर पूर्ण सत्य के साथ खबरें देना पसंद करते हैं। सत्यकेतन समाचार

सत्यकेतन समाचार के व्हाट्सअप ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

डीटीए के प्रभारी बने प्रोफेसर हंसराज सुमन

  • शिक्षक हितों के लिए कार्य करना मेरी पहली प्राथमिकता है : हंसराज
  • दिल्ली सरकार को पूरा सहयोग देंगे
Professor Hansraj 'Suman' made in charge of DTA
Photo: Satyaketan samachar

नई दिल्ली, सत्यकेतन समाचार। आम आदमी पार्टी के शिक्षक संगठन, दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन (डीटीए) की एक मीटिंग शनिवार को पार्टी के संयोजक और केबिनेट मंत्री गोपाल राय के निवास पर हुई। संगठन की कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए प्रोफेसर हंसराज ‘सुमन’ को इसका प्रभारी (इंचार्ज) नियुक्त किया गया है। उनकी नियुक्ति केबिनेट मंत्री और संगठन संयोजक गोपाल राय ने की है। इस अवसर पर डॉ. आशा जस्सल डॉ. नरेंद्र पांडेय, डॉ. मनोज कुमार सिंह, डॉ. राजेश राव, केदारनाथ भी मौजूद थे।

Professor Hansraj 'Suman' made in charge of DTA
Photo: Satyaketan samachar

प्रोफेसर हंसराज ‘सुमन’ दिल्ली विश्वविद्यालय से संबद्ध अरबिंदो कॉलेज के हिंदी विभाग में वरिष्ठ शिक्षक है व नॉन कॉलेजिएट सेंटर के प्रभारी है। ये वर्ष 2015-17 और 2017-19 तक दिल्ली विश्वविद्यालय की सर्वोच्च संस्था एकेडेमिक काउंसिल के सदस्य भी रह चुके हैं। इसके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय की अनेक कमेटियों में रहकर प्रोफेसर सुमन ने अपने दायित्व का निर्वाह किया है -एडमिशन कमेटी, अपॉइंटमेंट्स और प्रमोशन कमेटी, मेडिकल कमेटी, फंक्शन कमेटी, सलेब्स कमेटी के अलावा प्रोफेसर सुमन वर्तमान में डीयू की टास्क फोर्स कमेटी के सदस्य हैं। इन्हें राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षक सम्मान व अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। इन्हें दिल्ली सरकार का डॉक्टर अम्बेडकर अवॉर्ड भी मिल चुका है।

यह भी पढ़ें:- अपनी मांगों के लिए प्रदेश अध्यक्ष व सांसद से मिले टीचर्स

प्रोफेसर सुमन ने अपनी नियुक्ति पर कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता शिक्षक हितों के लिए कार्य करना है। दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले वित्त पोषित 28 कॉलेजों में शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति, पदोन्नति के अतिरिक्त, 20 से अधिक कॉलेजों में प्रिंसिपलों और लाइब्रेरियन की नियुक्ति कराना पहली प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने यह भी कहा है कि जिन कॉलेजों में दिल्ली सरकार की गवर्निंग बॉडी नहीं बनी है वहाँ पर गवर्निंग बॉडी बनवाने के प्रयास किए जाएंगे।इसमें वे सरकार का पूरा सहयोग करेंगे। प्रोफेसर सुमन ने यह भी कहा है कि डीटीए की कार्यकारिणी के सदस्यों के साथ बैठकर भविष्य के लिए शिक्षकों, कर्मचारियों और छात्रों के हितों के लिए एजेंडा तैयार किया जाएगा। डीटीए से छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों को जोड़ने और सरकार की नीतियों से परिचित कराने का कार्य किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:- 40 करोड़ की हेरोइन के साथ दो तस्कर गिरफ्तार, कार में कैविटी बनाकर लाए थे हेरोइन

फोरम ऑफ एकेडेमिक्स फ़ॉर सोशल जस्टिस और दिल्ली के नॉन टीचिंग स्टाफ एसोसिएशन ने प्रोफेसर हंसराज ‘सुमन’ की नियुक्ति पर बधाई देते हुए कहा है कि इनके आने से संगठन को बल मिलेगा। फोरम के महासचिव प्रोफेसर के.पी. सिंह ने प्रोफेसर हंसराज सुमन को बधाई देते हुए कहा है कि प्रोफेसर सुमन दिल्ली विश्वविद्यालय की समस्याओं से भली भांति परिचित हैं, वे छात्र, शिक्षक और कर्मचारियों के मुद्दे पहले भी दिल्ली विश्वविद्यालय और केंद्र सरकार के समक्ष उठाते रहे हैं, लेकिन दिल्ली सरकार के शिक्षक संगठन का दायित्व मिलने पर उनकी जिम्मेदारी बढ़ जाएगी, अब विश्वविद्यालय संबंधी विभिन्न समस्याओं पर प्रोफेसर सुमन ज्यादा सक्रिय होकर काम करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि फोरम के सदस्य सदैव उनके साथ है। अब इस नये प्लेटफार्म से हमारा फोरम छात्रों, शिक्षकों, कर्मचारियों की समस्याओं पर बेहतर ढंग से काम कर सकेगा।

एसोसिएशन के अध्यक्ष केदारनाथ ने अपने संगठन की ओर से प्रोफेसर सुमन को बधाई देते हुए कहा कि कर्मचारी हर स्तर उनके साथ विश्वविद्यालय की समस्याओं पर कार्य करने के लिए सहयोग करता रहेगा। उन्होंने बताया है लंबे समय से कॉलेजों में नॉन टीचिंग में नियुक्ति व पदोन्नति ना होने से कर्मचारियों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है। प्रोफेसर सुमन अब कर्मचारियों की समस्याओं को सरकार तक बेहतर तरीके से पहुंचाते रहेंगे, और कर्मचारी एशोसियेशन को यह उम्मीद है कि हमारी समस्याओं का यथाशीघ्र समाधान भी होगा।

About sksamachar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »