हम अपने सभी पाठकों को तथ्य व आकड़ों के आधार पर पूर्ण सत्य के साथ खबरें देना पसंद करते हैं। सत्यकेतन समाचार

सत्यकेतन समाचार के व्हाट्सअप ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

राम मंदिर निर्माण के लिए मोरारी बापू देंगे 5 करोड़ दान, 10 करोड़ महावीर मंदिर ट्रस्ट ने भी देने की घोषणा

Morari Bapu will donate 5 crore for the construction of Ram temple
Photo Source: Google

Ram Mandir: धर्म गुरु मोरारी बापू (Dharma Guru Morari Bapu) ने उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) के निर्माण के लिए अपने व्यासपीठ से श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट (Shri Ram Janmabhoomi Tirthkshetra Trust) को 5 करोड़ रुपये दान देने की घोषणा की है. कई संगठनों ने मंदिर के निर्माण के लिए बड़ी रकम दान करने का प्रस्ताव दिया था. आपको बता दें कि इससे पहले बिहार की राजधानी पटना स्थित महावीर मंदिर ट्रस्ट (Mahaveer Temple Trust) ने फरवरी में कहा था कि वह मंदिर के निर्माण के लिए 10 करोड़ रुपये का दान देगा.

यह भी पढ़ें:- Uddhav Thackeray in Ayodhya: राम मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपये की धनराशि देने का ऐलान

मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास (Ram temple foundation stone) करने वाले हैं. भूमि पूजन के दौरान कई राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्रिमंडल के मंत्री और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के साथ-साथ अन्य लोगों के भी भाग लेने की संभावना है.

यह भी पढ़ें:- राम मंदिर निर्माण के लिए 51 लाख का सहयोग देगा रामलोक मंदिर ट्रस्ट

राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण कार्यशाला के पर्यवेक्षक के अनुसार, राम मंदिर पत्थरों से बनाया जाएगा. इसमें लोहे और स्टील का उपयोग नहीं किया जाएगा. मंदिर के निर्माण कार्यशाला के पर्यवेक्षक अनु भाई सोमपुरा ने रविवार को कहा, “मैं यहां 30 साल से काम कर रहा हूं. यहां पर पत्थर लगे हैं, अन्य पत्थर राजस्थान से आएंगे. सादे पत्थर आएंगे और कटिंग यहां की जाएगी. हमारे पास दो मशीनें हैं, जो पत्थर काटती हैं.” उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण में लोहे का उपयोग नहीं किया जाएगा. लकड़ी, तांबा और सफेद सीमेंट से मंदिर निर्माण होगा.

About sksamachar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »